ख़बरों की खबर, सीधे आप तक, सिर्फ सच के साथ

जालौन: 11वीं की छात्रा रिंकी को गणतंत्र दिवस 26 जनवरी के अवसर पर एक दिन के लिए सांकेतिक कलेक्टर बनाया,वहीं अंशिका को एडीएम

जालौन: जिले में मंगलवार को गणतंत्र दिवस के दिन मिशन शक्ति योजना के तहत दो छात्राओं को 1 दिन के लिये जालौन का डीएम और एडीएम के पद पर नियुक्त किया गया। जिसमें कक्षा 11वीं की छात्रा रिंकी को जिलाधिकारी बनाया गया, जबकि सूरज ज्ञान इंटर कालेज की छात्रा अंशिका जाटव को एक दिन के लिए एडीएम बनाया गया. उन्होंने डीएम डॉक्टर मन्नान अख्तर और अपर जिलाधिकारी प्रमिल कुमार के साथ मिलकर फरियादियों की समस्याएं सुनी और उसके निराकरण के लिए संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए। इस दौरान जिलाधिकारी और एडीएम ने दोनों छात्राओं को काम करने के तरीकों से अवगत कराया। दोनों छात्राएं आगे चलकर सिविल सर्विसेज की तैयारी कर आईएएस बनकर देश के लिये सेवा करना चाहती हैं।

छात्राओं ने सुनीं फरियादियों की शिकायतें- बता दें कि एक दिन की डीएम बनी रिंकी उरई के एसआर इंटर कालेज में 11वीं की छात्रा है, जबकि अंशिका कोंच के सूरज ज्ञान इंटर कॉलेज कोंच में 11वीं की छात्रा हैं. आज मिशन शक्ति योजना के नायिका इवेंट के जरिये जिलाधिकारी और एडीएम के साथ रहकर डीएम, एडीएम के पद और कार्य करने के तरीकों की जानकारी ली. इस दौरान जनसुनवाई भी की और फरियादी शिकायतें लेकर वहां पहुंचे थे, उनकी समस्याएं सुनी और उनका निराकरण किया. इसके साथ ही संबंधित अधिकारियों को समस्या हल करने के दिशा निर्देश भी दिए।

★ जिलाधिकारी की कुर्सी पर बैठने और कार्य करने के बाद रिंकी और एडीएम की कुर्सी पर बैठने वाली अंशिका बेहद खुश नजर आईं. उन्होंने कहा कि आगे बनकर वह भी आईएएस बनकर लोगों की मदद करना चाहती हैं। दोनों छात्राओं ने संदेश दिया कि महिलाओं और लड़कियों को अपने अंदर का डर निकालना बेहद जरुरी है. उन्होंने लड़कियों और उनके परिवार वालों से आग्रह किया कि लड़कियों के अंदर डर न डालें बल्कि उन्हें आत्मनिर्भर बनने का मौका दें, ताकि वह आगे बढ़ें और समाज की ऊंचाइयों को छू सकें।